शरीर की कमज़ोरी कैसे दूर करे

शारीरिक शक्ति कैसे बढ़ाएं-

 नमस्कार दोस्तो आज के वक़्त में दिन भर की थकान व तनाव से भरी जिंदगी से लोगो की शारीरिक शक्ति कम हो जाती है जिसके कारण उन्हें बार बार थकान महसूस होती है 
*किन कारणों से आती है बार बार थकान-1.दोस्तो कुछ लोग पूरे दिन बहुत कम मात्रा में पानी का सेवन करते है जिसके कारण भी थकान महसूस होती 2.अपनी दिनचर्या को सही ढंग से ना बनाये रखने पर भी थकान होती है3.पूरे पूरे दिन Social Media का इस्तेमाल करने पर भी अब दिमागी तौर पर थकान महसूस कर सकते है व तनाव भी आ सकता है

4.खाना खाकर सो जाना गलत है खाने के तुरंत बाद पानी पीना भी आलस्य का कारण बन जाता हैलगभग सभी लोग अपने शारीरिक ताकत को बढ़ाना चाहते हैं या आप यूँ भी कह सकते हैं कि वो शरीर को सुडौल और मजबूत बनाना चाहते हैं. लेकिन रोजमर्रा के जीवन में कई ऐसे कारक हैं जिनसे हमारा शरीर कमजोर पड़ने लगता है जैसे कि अत्यधिक पसीना आना, भूख की कमी, ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई और पर्याप्त नींद प्राप्त नहीं करना आदि. कई सरल घरेलू उपाय हैं जो भी आपकी ऊर्जा को बढ़ावा दे सकते हैं और आपकी शक्ति को बढ़ा सकते हैं. आइए शारीरिक ताकत बढ़ाने के घरेलु उपायों के बारे में जानें.

1. मुलेठी-

मुलेठी कमजोरी के विभिन्न लक्षणों से लड़ सकती है. इस जड़ी बूटी ने प्राकृतिक रूप से शरीर द्वारा निर्मित एड्रि‍नल हार्मोन को प्रेरित करता है जिससे आपकी एनर्जी और मेटाबोलिज्म को बढ़ावा मिलता है.

2. केला-
केले में सुक्रोज़, फ्रुक्टोज और ग्लूकोज जैसे प्राकृतिक शुगर का एक बड़ा स्रोत है जो आपको त्वरित और पर्याप्त एनर्जी की आपूर्ति करता हैं. इसके अलावा केले में मौजूद पोटेशियम बॉडी को शुगर से एनर्जी में बदलने की जरूरत होती है. केले में मौजूद फाइबर आपके ब्लड में ग्लूकोज स्तर को बनाए रखने में भी मदद करता है.

3. एक्सरसाइज-
नियमित एक्सरसाइज और आसान शारीरिक गतिविधियां आपकी स्टैमिना को मजबूत करती हैं और आपकी मसल्स की ताकत बढ़ाती है. एक्सरसाइज करने के लिए सुबह का समय सबसे अच्छा होता है. रोजाना 15 मिनट के लिए वार्म अप और स्ट्रेचिंग आपको फ्रेश और एनेर्जेटिक रखती हैं. योग और मैडिटेशन भी आपके एनर्जी के स्तर को हाई रखने के लिए एक बढ़िया तरीका है.

4. स्ट्रॉबेरी-
स्ट्रॉबेरी पूरे दिन आपको एनेर्जेटिक रख सकते हैं. ये विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट से भरे हुए हैं जो बॉडी के टिश्यू की रिपेयर में मदद करते हैं, इम्यून को बढ़ावा देते हैं और फ्री रेडिकल्स की क्षति से रक्षा करते हैं. इसके अलावा, आपको स्ट्रॉबेरी से मैंगनीज, फाइबर और पानी की एक स्वस्थ खुराक मिलती है.
5. मैंगो-
मैंगो एक मीठा और रसदार फल है जिसमें प्रयाप्त मात्रा में विटामिन, मिनरल्स और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं. सामान्य आहार फाइबर, पोटेशियम, मैग्नीशियम और कॉपर का भी एक उत्कृष्ट स्रोत हैं. इसके अलावा, मैंगो में मौजूद आयरन बॉडी में रेड ब्लड सेल्स की संख्या को बढ़ाकर मुकाबला करने में मदद कर सकता है. इसके अलावा, मैंगो में स्टार्च होता है, जो कि चीनी में परिवर्तित होता है जो आपको तत्काल ऊर्जा प्रदान करता है.

6. बादाम-
बादाम में विटामिन ई की प्रचुरता हैं जो आपको ऊर्जावान महसूस करा सकते हैं और सामान्य कमजोरी के लक्षणों से लड़ सकते हैं. इसके अलावा बादाम में मैग्नीशियम की हाई डोज़, प्रोटीन, फैट और कार्बोहाइड्रेट को ऊर्जा स्रोतों में बदलने में एक अच्छी भूमिका निभाती है. मैग्नीशियम की हल्की कमी कुछ लोगों में कमजोरी का कारण हो सकती है.

7. पानी-
डिहाइड्रेशन के कारण भी थकान हो सकती है, इसलिए हाइड्रेटेड रहने के लिए बहुत सारा पानी, रस, दूध या अन्य तरल पेय पदार्थ पीते रहें. फलों के रस में विटामिन ए, स, और बी 1 आप को ऊर्जावान करते हैं.

8. अंडे-
कमजोरी से लड़ने के लिए सबसे पहलें एक स्वस्थ आहार का सेवन करना है. अंडे में प्रोटीन, आयरन, विटामिन ए, फोलिक एसिड, राइबोफ्लेविन और पैंटोफेनीक एसिड जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं. आप अंडे को रोजाना कमजोरी को दूर रखने के लिए सेवन कर सकते हैं . आप एक हार्ड उबले हुए अंडे, पनीर या हरी सब्जियों के साथ एक आमलेट या एग सैंडविच खा सकते हैं.

9. दूध-
दूध को विटामिन बी का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है जो कमजोरी से लड़ने में मदद करता है. इसके अलावा यह कैल्शियम का एक अच्छा स्रोत है जो आपकी हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत करता है.

10. एक्यूप्रेशर-
यह एक स्पर्श चिकित्सा है जिसमें शरीर को पुनर्जीवित करने के लिए शरीर के कुछ विशिष्ट बिंदुओं पर दबाव का उपयोग किया जाता है. भौंह के बीच, कंधे की मांसपेशियों में लोअर नैक की साइड में 1-2 इंच, घुटने के नीचे, छाती के बाहरी भाग पर, नाभि के नीचे तीन उंगली की चौड़ाई के बिंदुओं पर दबाव डालने से सामान्य कमजोरी से छुटकारा पा सकते हैं.11. आंवला-
आंवला एक उच्च पौष्टिक फल है जो आपके ऊर्जा स्तर को सुधार सकता है. यह विटामिन सी, कैल्शियम, प्रोटीन, लोहा, कार्बोहाइड्रेट और फास्फोरस का एक अच्छा स्रोत है. रोजाना सिर्फ एक आंवला खाने से आप अपनी कमजोर इम्यून सिस्टम को मजबूत कर सकते हैं.
(12.)आयुर्वेदिक उपाय
इसके लिए आप कामवीर्य चूर्ण का भी इस्तेमाल कर सकते है जो 100%आयुर्वेद है व जिसमे कई पुरानी जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया गया है जिसमे अस्वगंधा,सतावरी,सफेद मूसली,काली मूसली ,विदारीकन्द,शिलाजीत,गोखरू, काउच बीज, आदि प्राकृतिक जड़ी बूटियां शामिल है जिसे आप Online भी खरीद सकते है

Call-6376869099
www.ojasayushveda.com
 यह चूर्ण 100%शारीरक शक्ति बढ़ाने में असरदार है 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *